समाज सुधार अभियान के दौरान जिला प्रशासन के द्वारा अभिवक्ताओं के साथ अभद्र व्यवहार को लेकर जिला विधिक संघ के द्वारा की गई बैठक।

आरा जमुई
जनादेश न्यूज़ जमुई
जमुई (लकी अली): जिला विधिज्ञ संघ , जमुई के द्वारा कार्यकारिणी की बैठक में की गई । बैठक में उपस्थित पदाधिकारीयों द्वारा सर्वसम्मति से जिला प्रशासन द्वारा दिनांक 23.02.2022 को माननीय मुख्यमंत्री बिहार के समाज सुधार अभियान के दौरान अधिवक्ताओं के साथ जिला प्रशासन द्वारा अभद्र व्यवहार की निंदा की गई। बैठक में अधिवक्ताओं ने बताया कि व्यवहार न्यायालय के आने – जाने का सारा मार्ग अवरूद्ध कर दिया गया अधिवक्ताओं, न्यायालय कर्मियों एवं मवक्किलों को भी न्यायालय आने में रोका गया । इतना ही नहीं अधिक्ताओं को सार्वजनिक रूप से अपमानित किया गया महिला अधिवक्ताओं को नहीं छोड़ा गया । जिसकी जानकारी अधिवक्ताओं ने उस दिन दी कि वे जब न्यायालय पैदल आ
रहे थे। आम नागरिक एवं मैट्रिक परीक्षार्थीयों को भी नहीं बख्शा गया। उक्त विषय पर जिला विधिज्ञ संघ , जमुई की कार्यकारिणी द्वारा जिला प्रशासन द्वारा ऐसे व्यवहार की घोर निन्दा की जाती है । माननीय उच्च न्यायालय , पटना द्वारा पूर्व में भी निदेशित रहा है कि अधिवक्ताओं को न्यायालय आने से नहीं रोका जाय लेकिन इसकी अवहेलना जिला प्रशासन , जमुई द्वारा की गयी । अतः इस पर सख्त कार्रवाई की आवश्यकता है इसलिए निर्णय लिया जाता है कि इस प्रस्ताव की प्रति माननीय मुख्य न्यायाधीश उच्च न्यायालय पटना , माननीय निरीक्षी न्यायामूर्त्ति , जमुई न्याय मंडल , पटना उच्च न्यायालय , पटना जिला एवं सत्र न्यायाधीश , जमुई , माननीय अध्यक्ष बार कांउसिल ऑफ इण्डिया एवं माननीय अध्यक्ष बिहार स्टेट बार कांउसिल , पटना को सूचनार्थ भेज इस पे आवश्यक कारवाई की मांग की गई है।