हाथी का दांत बना है महादलित गांव का नल जल योजना, नल के जल से अभी भी हैं लाभार्थी वंचित

नवादा
जनादेश न्यूज़ नवादा
नवादा : जिले के गोविंदपुर प्रखंड क्षेत्र अंतर्गत बुधवारा पंचायत के वार्ड नंबर 1 महादलित गांव पहरैठा के सैकड़ों घर महादलित परिवार को पीने के पानी के लिए 1 वर्ष से दर-दर भटकना पड़ रहा है। बताया जाता है कि सरकार के महाकांक्षी योजना सात निश्चय के तहत वार्ड सदस्य मुन्नी देवी और वार्ड क्रियान्वयन सचिव के द्वारा महादलित परिवार को पीने के पानी के लिए बोरिंग करा कर पानी टंकी लगाया गया । नल-जल योजना में घटिया सामग्री लगाने के कारण एक साल से नल जल बंद पड़ा है। नल जल योजना बंद रहने के कारण लोगों को पीने के पानी के लिए दर-दर भटकना पड़ रहा है जिससे ग्रामीणों में वार्ड सदस्य सचिव के प्रति काफी आक्रोश है। ग्रामीण बिजली राम कारू चौधरी संतोष राम द्वारिका बहादुर चौधरी मंजू देवी शीला देवी समेत सैकड़ों ग्रामीणों ने बताया कि वार्ड सदस्य सचिव के द्वारा नल जल योजना का बोरिंग कराया गया जो बोरिंग कराने के एक-दो माह बाद ही बंद हो गया और तब से आज तक बंद पड़ा है नल जल में घटिया सामग्री लगाकर वार्ड सदस्य एवं सचिव द्वारा मिलीभगत कर राशि की निकासी कर बंदरबांट कर लिया गया है। साथ ही ग्रामीणों ने अधिकार की प्रखंड विकास पदाधिकारी को कई बार नल जल योजना जांच कराने तथा बंद पढ़ा नल जल को चालू करवाने के लिए आवेदन दिया गया मगर आज तक प्रखंड विकास पदाधिकारी द्वारा ना ही जांच कराया गया और ना ही कोई कार्यवाही किया गया जिसके कारण नल-जल बंद पड़ा है। अब तो नल जल योजना की लगी टंकी सिर्फ शोभा की वस्तु बनकर रह गया है। पानी की समस्या से महादलित परिवार आज भी जूझ रहा है लोगों को दूर से पानी लाकर पीना पड़ रहा है जो एक बहुत बड़ी समस्या लोगों के बीच बनी है। बंद पड़े नल जल को चालू करवाने के लिए फिर कोई पदाधिकारी द्वारा किसी भी तरह का ध्यान नहीं दिया जा रहा है जिसके कारण वार्ड सदस्य अपनी मनमानी कर नल जल बंद रखे हुए है। साथ ही ग्रामीणों ने यह भी कहा कि प्रखंड विकास पदाधिकारी द्वारा नल जल चालू करवाने को लेकर कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया तो सभी ग्रामीण धरना प्रदर्शन करने के लिए बाध्य हो जाएंगे और जिला पदाधिकारी के पास पहुंचकर धरना प्रदर्शन करते हुए नल जल चालू करवाने की मांग करेंगे।
नवादा से रामजी प्रसाद के साथ कन्हाई चौधरी की रिपोर्ट