प्रखंड स्तरीय पदाधिकारियों के माध्यम से कृषि कार्य एवं कृषि से संबंधित विभिन्न सेवाओं की स्थल जांच

नालंदा
जनादेश न्यूज नालंदा
—————————————
जिलाधिकारी के निदेशानुसार जिला के सभी प्रखंडों के विभिन्न पंचायतों में 3 अगस्त (बुधवार) एवं 4 अगस्त (गुरुवार) को प्रखंडों के वरीय प्रभारी पदाधिकारियों तथा प्रखंड स्तरीय अन्य पदाधिकारियों के माध्यम से कृषि कार्य की वर्तमान स्थिति तथा कृषि से संबंधित विभिन्न सेवाओं की जमीनी स्थिति की स्थल जांच कराई जा रही है।
पंचायतों के स्थल जांच के क्रम में विशेष रुप से धान रोपनी की जमीनी स्थिति, कृषि विद्युत फीडर एवं ट्रांसफार्मर की स्थिति, राजकीय नलकूप की स्थिति, सिंचाई कैनाल की स्थिति, उर्वरक का दर एवं उपलब्धता की स्थिति, वर्षा मापक यंत्र की स्थिति तथा वैकल्पिक खेती के लिए आवश्यक बीज की उपलब्धता की स्थिति को लेकर पदाधिकारियों द्वारा विभिन्न सम्बद्ध किए गए पंचायतों में स्थल जांच की जा रही है।
जिला में दर्ज आंकड़ों के आधार पर न्यूनतम धान आच्छादन वाले 20 पंचायतों में विशेष रूप से धान रोपनी की वर्त्तमान स्थिति की जांच कराई जा रही है। धान आच्छादन के स्थल जांच का उद्देश्य यह पता करना है कि प्रतिवेदित आंकड़े जमीनी स्थिति से मेल खाते हैं या नहीं।
जांचोपरांत समर्पित जांच प्रतिवेदन के आधार पर पाई गई खामियों को दूर करने हेतु कार्रवाई की जाएगी।