पूर्व मुखिया चमारी मांझी को श्रद्धांजलि देने कौआकोल पहुंचे मंत्री संताेष सुमन

नवादा
जनादेश न्यूज़ नवादा
कृष्णा कुमार चंचल की रिपोर्ट
बिहार के लघु जल संसाधन एवं अनुसूचित जाति-जनजाति कल्याण मंत्री डॉ. संतोष कुमार सुमन 20 जनवरी बुधवार को नवादा जिले के कौआकोल प्रखंड के महुडर गांव पहुंचे। वे स्थानीय पूर्व मुखिया चमारी मांझी की चौथी पुण्यतिथि समारोह में शामिल होने आए थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता पूर्व मुखिया के पुत्र व हम (से.) के जिलाध्यक्ष अशोक मांझी कर रहे थे। कार्यक्रम में सिकंदरा विधानसभा सीट से विधायक प्रफुल्ल कुमार मांझी भी शामिल हुए। मंत्री एवं विधायक समेत अन्य लोगों ने पूर्व मुखिया चमारी मांझी के तैलीय चित्र पर माल्यार्पण किया।

इस मौके पर आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए मंत्री डॉ. सुमन ने कहा कि कृषि बिहार की आत्मा है। कृषि के विकास को लेकर सरकार कटिबद्ध है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में 2025 तक हर खेतों तक पानी पहुंचाने को लेकर सरकार प्लानिंग कर रही है। जरूरत पड़ी तो वाटर टैंक बनाकर पाइप के जरिए खेतों तक पानी पहुंचाने का कार्य किया जाएगा। इसके साथ ही उन्होंने स्थानीय समस्याओं का भी शीघ्र निष्पादन करने का भरोसा दिलाया।
दरअसल, कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे जिलाध्यक्ष अशोक मांझी ने अपने संबोधन में कौआकोल में अनुसूचित जाति-जनजाति विद्यालय खोलने, कौआकोल में सिंचाई की व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए बांध बनाकर व नदियों का पानी को संग्रह कर किसानों के खेतों तक पहुंचाकर लाभान्वित करने की मांग की थी। मौके पर मौजूद अन्य वक्ताओं ने भी जिला एवं प्रखंड की विभिन्न समस्याओं को मंत्री के समक्ष रखा था।
कार्यक्रम में मौजूद सिकंदरा विधायक प्रफुल्ल मांझी ने कहा कि वर्तमान युग में लोग भीम राव अंबेडकर के सिद्धांतों पर चलते हुए शिक्षा पर जोर दें, तभी समाज का संपूर्ण कल्याण हो सकता है। मंत्री ने भी लोगों से समाज के चहुंमुखी विकास के लिए शिक्षा पर जोर देने की अपील की। मौके पर जमुई हम पार्टी के जिलाध्यक्ष मोहम्मद समीर उद्दीन, राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य कपिल मांझी, भोला मांझी, शिवदयाल मांझी, नारायण मांझी, टोला सेवक संघ के जिलाध्यक्ष मुकेश मांझी, जदयू नेता ईश्वरी कुशवाहा, जितेंद्र साव आदि मौजूद थे।