दो सहोदर भाइयों की पिस्टल की नोक पर अपहरण,3 घण्टे में पुलिस ने किया बरामद

नवादा
जमदेश न्यूज़ नवादा
कृष्णा कुमार चंचल की रिपोर्ट
नवादा जिले अंतर्गत रोह में मंगलवार की देर रात्रि लगभग ग्यारह बजे के करीब घोराही गांव के पास स्थित धर्म कांटा के पास से उत्तर प्रदेश के झांसी जिला के गढ़वा गॉंव निवासी दिनेश पटेल का अपहरण तीन अज्ञात लोगों ने पिस्टल के बल पर गाड़ी सहित कर लिया। अपहृत निर्माणाधीन स्टेट हाइवे-82 में बन रहे नाला-पुलिया में मुंशी का काम करता है। उस समय उसके साथ इनोवा गाड़ी यूपी 93 बीएच-5445 में उसका भाई धनेन्द्र पटेल भी बैठा था। मामला प्रकाश में आते ही रोह पुलिस ने ततपरता दिखाई। और मामले को वरीय अधिकारियों के संज्ञान में दिया। सूचना मिलते ही नवादा एसपी,अभियान एसपी,रोह थाना प्रभारी संतोष कुमार,पकरीबरावां थानाध्यक्ष सरफराज इमाम,काशीचक थाना प्रभारी दल बल के साथ अपहरणकर्ता की धरपकड़ के लिए अभियान तेज कर दिया और देर रात उसमें सफलता भी मिल गई। पुलिस ने अपहृत दिनेश पटेल को उसके भाई के साथ नवादा जिला के काशीचक थाना क्षेत्र के धानपुर गॉंव के पास स्थित चंडी महारानी उच्च विद्यालय के मैदान से रात्री के लगभग 2:30 बजे सकुशल पुलिस ने बरामद कर लिया।
               बताया जाता है कि अपहरणकर्ताओं ने पुलिस के द्वारा चारों ओर से घिरे होने के एहसास के बाद वह अपहृत दोनों भाईयों को वाहन सहित छोड़ कर फरार हो गया। इसके बाद सकुशल अपहृत को बरामद कर रोह थाना लाया गया।
अपहृत रोह थाना में दिए आवेदन में कहा है कि मैं गया स्थित पीएम प्रोजेक्ट मैनेजर सुधाकर राव से मिलकर रोह थाना के घोराही गॉंव के पास स्थित अपने प्लांट में लौट रहा था। तभी प्लांट से कुछ दूरी पर स्थित धर्मकांटा से कुछ पहले तीन की संख्या में रहे लोगों ने पिस्टल तान कर गाड़ी रोकने का इशारा किया। हमने डर के मारे गाड़ी रोक दिया। इसके बाद तीनों मेरे गाड़ी पर सवार हो गए। और उसमें से एक गाड़ी चलाने लगा। मैंने किसी तरह गोविन्दपुर थाना क्षेत्र के बुधवारा निवासी पंकज सिंह को मैसेज लिखा की हम फंस गए, पुलिस। उसने रोह थाना को सूचना दिया। इसके बाद पुलिस हरकत में आई। इस मामले को लेकर जिला पुलिस कप्तान नेे काफी मेहनत की। वे स्वयं इसका मोर्चा संभाली ली और घटना के 3 घण्टे के अंदर ही दोनों सगे भाइयों को सकुशल बरामद कर लिया गया। एसपी की इस सराहनीय कार्य की सर्वत्र चर्चा हो रही है।