चकाई में मानव मुक्ति संघ के द्वारा मनाया गया विश्व आदिवासी दिवस।

जमुई
जनादेश न्यूज़ जमुई
चकाई(अमित कौशिक/रोहित कुमार) प्रखंड अंतर्गत बामदह पंचायत में मानव मुक्ति संघ के द्वारा विश्व आदिवासी दिवस के अवसर पर विज्ञप्ति जारी कर यह कहा गया कि हम भारत के मूलनिवासी आदिवासी विश्व आदिवासी दिवस 9 अगस्त को राष्ट्रीय अवकाश की मांग करते हैं। साथ ही बिहार में रह रहे आदिवासी को पांचवी और छठी अनुसूची और अनुसूची के तहत पूर्ण अधिकार प्राप्त हो राज्य और केंद्र सरकार आदिवासी स्वशासन पद्धति जैसे मांझी परगना प्रधानी व्यवस्था को संरक्षित करते हुए आदिवासियों को और आदिवासी धर्म को संरक्षण दे साथ ही बिहार में रह रहे आदिवासियों को पांचवी और छठी अनुसूची के तहत पूर्ण अधिकार प्राप्त हो वहीं विश्व आदिवासी दिवस की हार्दिक शुभकामनाओं के साथ एससी एसटी ओबीसी और एम आई एन मानव मुक्ति संघ के सदस्यों द्वारा मूलनिवासी आदिवासी को एकजुटता के लिए विश्व आदिवासी दिवस के शुभ अवसर ढेर सारी बधाई देने के साथ ही कहा कि अपने और अपने समाज के हक अधिकार की लड़ाई के लिए मानव मुक्ति संघ हमेशा तत्पर रहेगा इस अवसर पर संघ के द्वारा दर्जनों पेड़ भी लगाए गए और यह शपथ भी लिया गया की हम आदिवासी भाइयों को पेड़ भी लगाना है और जंगल की भी रक्षा करना है इस कार्यक्रम को मानव मुक्ति संस्थान के संयोजक पृथ्वीराज हेंब्रम के नेतृत्व में मनाया गया