गिद्धौर के प्लस टू महाराजा चन्द्र चुड़ स्कूल में छात्रों से पैक्ट्रिकल परीक्षा के नाम पर अवैध उगाही जारी।

जमुई
जनादेश न्यूज जमुई
गिद्धौर (अजित कुमार)प्रखंड के महाराज चन्द्र चुड़ विद्या मंदिर गिद्धौर प्लस टू विद्यालय में इंटर विज्ञान व कला संकाय की प्रायोगिक परीक्षा में सैंकडों छात्र छात्राओं से अवैध राशि की उगाही थमने का नाम नही ले रही है। जानकारी के अनुसार दिनांक 1फरबरी से आयोजित दोनों संकाय के संबंधित विषयों के प्रायोगिक परीक्षा में स्कूल प्रबंधन द्वारा विज्ञान संकाय से प्रति छात्र 1000 रूपये एवं कला संकाय से प्रति छात्र निर्धारित 500 रूपये स्कूल प्रबंधन द्वारा लिया जा रहा है। जबकि कई दिनों से बच्चे अपने गार्जियन को शिकायत कर रहे थे। वही जनादेश संवादाता के द्वारा जांच पड़ताल किया गया तो अवैध राशि लिये जाने का मामला उजागर हुआ। वहीं प्रायोगिक परीक्षा दे रही स्कूली छात्रा पिंकी कुमारी,सचिन कुमार,मिथुन कुमार, दीपशिखा कुमारी,प्रीति कुमारी,दीपक कुमार,रेखा कुमारी,सोनम कुमारी सहित गिद्धौर,सेवा,केवाल गांव के  एससीएसटी एवं ओबीसी कटेगरी के दर्जनों छात्र छात्राओं ने बताया कि विद्यालय प्रबंधन द्वारा प्रायोगिक परीक्षा के शुरुआत में तो कोई डिमांड नही की गई। लेकिन दो दिन बाद ही अमरेश प्रसाद सिंह द्वारा उक्त राशि हम सभी छात्र छात्राओं को लाकर तुरंत देने को कहा गया। इस बात की कहीं भी किसी से चर्चा करने कि बात पर प्रयोगिक परीक्षा में अंक नहीं देने व परीक्षा में फेल कर देने की भी धमकी दी गयी थी।जिससे हम सभी छात्र विद्यालय द्वारा तय कि गयी निर्धारित राशि देकर प्रायोगिक परीक्षा देने को विवश हैं। वही आश्चर्य की बात यह की मैट्रिक परीक्षा के एडमिट कार्ड में भी बच्चे से 15 रुपये वसूली किया जा रहा है। जिस पर पत्रकार के द्वारा पूछा गया तो महाराज चंद्रचूर प्लस टू विद्या मंदिर गिद्धौर के प्रभारी मंजूर आलम ने बताया कि 5 रूपये बोर्ड को जमा करना पड़ता है और 10 रूपये स्कूल में फूल लगाने के लिए बच्चे से लिया जा रहा है।प्रायोगिक परीक्षा के नाम पर   छात्रों से लिए जा रहे अवैध राशि के मामले पर जिला शिक्षा पदाधिकारी कपिल देव तिवारी से पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि शिक्षकों द्वारा राशि लिए जाने की सुचना मुझे नहीं है। बच्चे के द्वारा आवेदन दिया जाए कल आकर जांच कर लेंगे अभी हम बैठक में जा रहे है।