खैरा में कागज पर चलता है आंगनवाड़ी केंद्र

जमुई
जनादेश न्यूज़ जमुई
खैरा(अरुण रंजन) : प्रखंड क्षेत्र में आंगनवाड़ी केंद्रों का बुरा हाल है केंद्रों से बच्चों को कोई खास लाभ नहीं मिल पा रहा है अधिकांश केंद्र मानों भगवान भरोसे हैं सीडीपीओ व पर्यवेक्षिका के स्तर से एक तरह से कागज पर ही केंद्रों का निरीक्षण कर लिया जाता है संभवत: यही कारण है कि दिन व दिन केंद्रों का हाल बुरा होते जा रहा है कहीं कई केंद्र बंद हैं। तो कहीं सेविका नदारद जनादेश न्यूज़ सवांददाता ने शनिवार को जब प्रखंड के आंगनबाड़ी केंद्रों का जायजा लिया केंद्र संख्या 30 पर सेविका नदारद दिखे दो चार बच्चे केंद्र के बाहर खेल रहे थे केंद्र संख्या 38 पर ना तो बच्चे थे और न सेविका जबकि केंद्रों के नाम पे राशि की निकासी हो रही है।
वहां के ग्रामीण व सेविका ने नाम नहीं छापने की शर्त पे बताया कि सेविका द्वारा हर माह रुपए की वसूली की जाती है इसी कारण सीडीपीओ केंद्रों के निरीक्षण के नाम पर कागजी खानापूर्ति हो जाती है शिकायत के बावजूद भी वरीय पदाधिकारी के स्तर से कोई कार्यवाही नहीं की गई है।जब इस विषय पर हमारे जनादेश सवांददाता अरुण रंजन द्वारा दूरभाष पे सीडीपीओ करुणा कुमारी जानकारी ली गयी कि केंद्र बंद रहने एवं सेविका व सहायिका के नदारद रहने की जांच की जाए तो उन्होनें कार्रवाई का भरोसा दिलाया।