कोरोना रोधी टीका लगाने गए स्वास्थ्य कर्मियों को नहीं मिला कुर्सी टेबल तो जमीन पर बैठकर लगाया लोगों को टिका।

जमुई
जनादेश न्यूज जमुई
बरहट ( शशि लाल ) जिले में कोरोना संक्रमीत लोगों की संख्या बढ़ती देख स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग के कर्मियों ने डोर टू डोर जाकर वैक्सीनेशन अभियान चला कर लोगों को कोरोना से बचाने के लिए टिका लगा रही है । इसी क्रम में स्वास्थ्य विभाग के एनएम इंदु कुमारी वेरी फायर मुकेश कुमार रविवार को प्रखंड के पेंघी गांव के ग्रामीणों को टीका लगाने के लिए पहुंचे। उन्होंने विभाग के निर्देश अनुसार डोर टू डोर टीका लगाया । बाद में पंचायत भवन नुमर में भी शिविर लगाकर टीका लगाना था।लेकिन पंचायत भवन बंद रहने के कारण स्वास्थ्य कर्मी जमीन पर बैठकर टीका लगाने के लिए मजबूर दिखे।वहीं ग्रामीणों ने बताया कि पंचायत भवन का चाबी मुखिया दामोदर पासवान के पास रहता है । वह चाबी लेकर कहीं बाहर चले गए है। जिस कारण पंचायत भवन से कुर्सी टेबुल बाहर नही निकाल पाए।इसी वजह से टिका लगाने आये स्वास्थ्य कर्मियों को जमीन के नीचे बैठकर टीका लगाना पड़ा। अब सवाल यह भी है कि एक तरफ स्वास्थ्य कर्मी लोगों को कोरोना वायरस का टीका लगाने के लिए अपना जान हथेली पर रखकर इस वायरस से लड़कर लोगों को जान बचाने में अपने कर्तव्य को पालन कर रही है। लेकिन मुखिया जी के अलावा स्थानीय लोगों को भी स्वास्थ्य कर्मियों को बैठने के लिए सुविधा उपलब्ध कराना मुनासिब नहीं समझा। इस संबंध में मुखिया दामोदर पासवन कहते हैं कि हम अपना निजी काम से बाहर आए हुए हैं।पंचायत भवन का चाबी मेरे पास नहीं है।