ईयर टैंगिंग पशुओं को ही मिलेगा बीमा का लाभ।

जमुई
जनादेश न्यूज जमुई।
जमुई(अजित कुमार यादव)जिले के खैरा प्रखंड क्षेत्र में राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम के तहत पशुपालन विभाग द्वारा प्रखंड के सभी पशुओं का ईयर टैगिग का कार्य किया जा रहा है। इस कार्य के लिए सभी पंचायतों में कर्मी दल को लगाया गया है। हालांकि पशुओं को ईयर टैगिंग का कार्य बीते माह पूर्व ही हो चुका है लेकिन कुछ पंचायतों में छूटे हुए पशुओं को ईयर टैगिंग किया जा रहा है।हरखार पंचायत में ईयर टैगिग कर रहे राजेंद्र यादव ने बताया कि पशुपालकों के घर-घर जाकर निजी टीकाकर्मी द्वारा निशुल्क ईयर टैगिंग किया जा रहा है। इसके तहत यूनिक आइडेंटिफिकेशन नंबर मवेशियों के कान में टैगिंग मशीन से टैग किया जाता है। इससे मवेशियों की सारी जानकारी सहित पशुपालक का आधार नंबर एवं मोबाइल नम्बर एकत्रित करते हुए इसे आइएनपीएच पोर्टल पर ऑनलाइन प्रविष्ट की जाती है। इसके माध्यम से पशुओं की सही जानकारी ऑनलाइन मिलेगी व इसी नंबर से पशुओं की पहचान भी की जाएगी। पशु चिकित्सक ने बताया कि सरकार द्वारा पशु बीमा योजना लाने के लिए पहचान नंबर दिया जा रहा है।आगे से पशुपालन के क्षेत्र में सरकार द्वारा संचालित कल्याणकारी एवं बीमा संबंधित योजनाओं का लाभ उन्हीं पशुपालकों को मिलेगा जिनके पशुओं की टैगिंग होगी। पशुपालक को सरकारी योजना में टीकाकरण, बिजली के करंट, वज्रपात, आग या किसी प्रकार की दुर्घटना से मवेशी को मौत हो गई हो तो आपदा से जो भी सहायता मिलता है वह सिर्फ टैग वाले जानवरों को मिलेगा।