अवैध रूप से आदतन शराब का कारोबार करने वाले 6 असामाजिक तत्वों के विरुद्ध जिला दंडाधिकारी द्वारा सीसीए के तहत कार्रवाई  

नालंदा
जनादेश न्यूज़ नालंदा 
—————————————
शराब के अवैध कारोबार में आदतन संलिप्त जिला के 6 असामाजिक तत्वों के विरुद्ध बिहार अपराध नियंत्रण अधिनियम 1981 की धारा 3 के अंतर्गत जिला दंडाधिकारी के न्यायालय द्वारा आदेश पारित किया गया है।
जीयर(अस्थावां) निवासी रघुनाथ चौधरी के विरुद्ध बिहार मद्य निषेध एवं उत्पाद संशोधित अधिनियम के अंतर्गत अस्थावां थाना में दो अलग-अलग कांड दर्ज हैं। अवैध रूप से शराब की बिक्री करने के आरोप में जेल जा चुके हैं तथा वर्तमान में जमानत पर मुक्त होने पश्चात पुनः अवैध शराब का कारोबार कर रहे हैं।
 पारित आदेश के आलोक में रघुनाथ चौधरी को एक महीना तक अपनी उपस्थिति प्रत्येक सोमवार, गुरूवार एवं रविवार को सारे थाना में दर्ज करानी होगी। इस अवधि में थाना क्षेत्र से किसी कारणवश बाहर जाने की आवश्यकता होने पर संबंधित थानाध्यक्ष से अनुमति प्राप्त कर ही थाना क्षेत्र से बाहर जाएंगे।
 बिंद थाना क्षेत्र के जाखौर निवासी मनोज केवट के विरुद्ध बिहार मद्य निषेध एवं उत्पाद अधिनियम के तहत बिंद थाना में दो अलग अलग कांड दर्ज है। अवैध रूप से शराब की बिक्री करने के आरोप में जेल जा चुके हैं तथा वर्तमान में जमानत पर मुक्त होने के पश्चात भी अवैध शराब का कारोबार कर रहे हैं।
 पारित आदेश के आलोक में मनोज केवट को अगले एक माह तक प्रत्येक सोमवार, गुरूवार एवं रविवार को सारे थाना में अपनी उपस्थिति दर्ज करानी होगी। थाना क्षेत्र से बाहर जाने के लिए संबंधित थाना प्रभारी से अनुमति प्राप्त करनी होगी।
 बिंद थाना क्षेत्र के नीरपुर निवासी जय ढाढ़ी के विरुद्ध बिहार मद्य निषेध एवं उत्पाद अधिनियम के तहत बिंद थाना में दो अलग-अलग कांड दर्ज हैं। अवैध रूप से शराब की बिक्री करने के आरोप में जेल जा चुके हैं तथा वर्तमान में जमानत पर मुक्त होने के पश्चात भी अवैध शराब का कारोबार कर रहे हैं।
 पारित आदेश के आलोक में जय ढाढ़ी को अगले एक माह तक प्रत्येक सोमवार, गुरुवार एवं रविवार को सारे थाना में अपनी उपस्थिति दर्ज करानी होगी। थाना क्षेत्र से बाहर जाने के लिए संबंधित थाना प्रभारी से अनुमति प्राप्त करनी होगी।
 बिंद थाना क्षेत्र के छतरपुर निवासी अशोक यादव के विरुद्ध बिहार मद्य निषेध एवं उत्पाद अधिनियम के तहत बिंद थाना में दो अलग अलग कांड दर्ज है। अवैध रूप से शराब की बिक्री करने के आरोप में जेल जा चुके हैं तथा वर्तमान में जमानत पर मुक्त होने के पश्चात भी अवैध शराब का कारोबार कर रहे हैं।
 पारित आदेश के आलोक में अशोक यादव को अगले एक माह तक प्रत्येक सोमवार, बुधवार, शुक्रवार एवं रविवार को सारे थाना में अपनी उपस्थिति दर्ज करानी होगी। थाना क्षेत्र से बाहर जाने के लिए संबंधित थाना प्रभारी से अनुमति प्राप्त करनी होगी।
इसलामपुर थाना क्षेत्र के इचहोस तकियापर निवासी प्रमोद सपेरा के विरुद्ध बिहार मद्य निषेध एवं उत्पाद अधिनियम के तहत इसलामपुर थाना में दो अलग अलग कांड दर्ज है। अवैध रूप से शराब की बिक्री करने के आरोप में जेल जा चुके हैं तथा वर्तमान में जमानत पर मुक्त होने के पश्चात भी अवैध शराब का कारोबार कर रहे हैं।
 पारित आदेश के आलोक में प्रमोद सपेरा को अगले एक माह तक प्रत्येक सोमवार, गुरुवार एवं रविवार को खुदागंज थाना में अपनी उपस्थिति दर्ज करानी होगी। थाना क्षेत्र से बाहर जाने के लिए संबंधित थाना प्रभारी से अनुमति प्राप्त करनी होगी।
लहेरी थाना क्षेत्र के आलमगंज निवासी रोहित कुमार के विरुद्ध बिहार मद्य निषेध एवं उत्पाद अधिनियम के तहत लहेरी थाना में दो अलग-अलग कांड दर्ज हैं। अवैध रूप से शराब की बिक्री करने के आरोप में जेल जा चुके हैं तथा वर्तमान में जमानत पर मुक्त होने के पश्चात भी अवैध शराब का कारोबार कर रहे हैं।
 पारित आदेश के आलोक में रोहित कुमार को अगले एक माह तक प्रत्येक सोमवार, बुधवार, शुक्रवार एवं रविवार को राजगीर थाना में अपनी उपस्थिति दर्ज करानी होगी।
 थाना क्षेत्र से बाहर जाने के लिए संबंधित थाना प्रभारी से अनुमति प्राप्त करनी होगी।
 सभी व्यक्तियों के विरुद्ध अगले एक माह तक के लिए यह आदेश लागू रहेगा। जिसके पश्चात उनके क्रियाकलाप एवं गतिविधि की पुनः समीक्षा की जाएगी। समीक्षा उपरांत अगर शराब के बिक्री करने या अन्य संदिग्ध गतिविधि में संलिप्त पाए जाते हैं तो जिला बदर करने की कार्रवाई की जाएगी।